Free Health Checkup Campaign, Date: 16/04/2019 10:00 am to 18/04/2019 6:00 pm, Address: 154, Shankar Nagar, Near Garden, Nagpur-440010

त्रिवडंग भस्म

त्रिवडंग भस्म

द्रव्य-

कलई शिशा और जसद तीनों शुध्द किये हुए  40 -40 तोले |

विधि –

तीनों को मिलाकर भटटी पर रख कडाही में द्रव करें | भस्म बनाने के लिए भांग 6 सेर लेवें | या पीपल वृक्ष की  छाल बड की जटा इमली के वृक्ष की छाल और हल्दी चारांे 1 -1 सेर लेकर मिला लें| उसमें से 1-1 मुठठी त्रिवडंग धूल चूर्ण सदृष बन जाये, तब कडाही को उतार लेवें षीतल होने पर घीकुवारं के रस के 12 घण्टे घुटवा टिकिया बनवा हांडी में रखकर 7 -8 सेर उपलों की आग देवें  | इस तरह 10 पुट देवे, यह भस्म सफेद और मुलायम तनती है |

गुणधर्म –

रसतन्त्रसार प्रथम खण्ड में लिखे अनुसार|

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *